Hindi Newsportal

उत्तराखंड: सुरंग से सफलतापूर्वक बाहर आने के बाद श्रमिक ने मीडिया से की बात, कही दिल छूने वाली यह बात

0 323
उत्तराखंड: सुरंग से सफलतापूर्वक बाहर आने के बाद श्रमिक ने मीडिया से की बात, कही दिल छूने वाली यह बात

 

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के सिलक्यारा सुरंग में फंसे मजदूर मंगलवार की रात बाहर आए। ऐसे में श्रमिक विश्वजीत कुमार वर्मा ने सुरंग से बाहर आने के बाद मीडिया से बातचीत की। इस दौरन विश्वजीत ने सुरंग में फंसे रहने का अनुवभ मीडिया से साझा किया उन्होंने कहा कि जब मलबा गिरा तो हमें पता चल गया कि हम फंस गए हैं। सभी हमें निकालने के प्रयास में लगे रहे। हर तरह की व्यवस्था की गई…ऑक्सीजन की, खाने-पीने की व्यवस्था की गई…पहले 10-15 घंटे हमें दिक्कत का सामना करना पड़ा, बाद में पाइप के द्वारा खाना उपलब्ध कराया गया… बाद में माइक लगाया गया था और परिवार से बात हो रही थी…अब मैं खुश हूं। इस मौके पर श्रमिक ने प्रधानमंत्री मोदी, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और झारखंड के सीएम हेमंत सुरेन का भी धन्यवाद किया।

बता दें कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सिल्कयारा सुरंग से सफलतापूर्वक बचाए गए श्रमिकों को आर्थिक सहायता देने का भी ऐलान किया। सीएम धामी ने सिलक्यारा में कहा कि सुरंग में फंसे सभी श्रमिकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल में इलाज पर होने वाला खर्चा सरकार उठाएगी। इनके अलावा परिजनों और श्रमिकों के खाने, रहने की भी व्यवस्था सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रमिकों के स्वस्थ होने पर सरकार की तरफ से एक-एक लाख रुपये के चेक बतौर आर्थिक सहायता के रूप में दिए जाएंगे। इसके अलावा घर जाने तक का पूरा खर्चा भी सरकार देगी।

गौरतलब है कि 12 नवंबर की सुबह से यह 41 मजदूर इस टनल में फंसे हुए थे। यह श्रमिक देश के अलग-अलग राज्यों से हैं। जिनमें सबसे ज्यादा झारखंड और उत्तर प्रदेश के निवासी हैं। बता दें कि यह हादसा दिवाली वाले दिन हुआ था।