Hindi Newsportal

हॉकी के ओलंपिक टेस्ट इवेंट में भारत ने जापान को 6-3 से हराया, फाइनल में बनाई जगह

0 215

स्ट्राइकर मंदीप सिंह द्वारा लगाई गयी शानदार हैट्रिक के चलते भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने मंगलवार को टोक्यो में होने वाले ओलंपिक टेस्ट इवेंट शिखर सम्मेलन में मेजबान जापान को 6-3 से हरा दिया. इसी के साथ ही भारत ने सीरीज के फाइनल में जगह बना ली है.

न्यूजीलैंड के खिलाफ 1-2 से हार का सामना करने के बाद भारतीय टीम ने यहां के ओई हॉकी स्टेडियम में अपने तीसरे मैच में एक प्रभावशाली प्रदर्शन के साथ वापसी की. भारत बुधवार को फिर से सीरीज के फाइनल में न्यूजीलैंड का सामना करेगा.

मनदीप ने 9 वें, 29 वें और 30 वें मिनट में भारतीय टीम के लिए गोल मारा, जबकि नीलकंठ शर्मा (तीसरे मिनट में), नीलम संदीप (सातवें मिनट में) और गुरजंत सिंह (41 वें मिनट में) ने भारत के लिए गोल बनाये.

जापान के लिए केंटारो फुकुडा (25 वें मिनट), केंटा तनाका (36 वें मिनट ) और काजुमा मुरता (52 वें मिनट ) ने गोल किए.

नीलकंठ ने तीसरे मिनट में फील्ड गोल के जरिए भारत को शानदार शुरुआत दी. शुरुआती बढ़त के साथ भारतीय टीम ने जापान के डिफेंस पर जबरदस्त दबाव बनाया.

हालांकि, सातवें मिनट में भारत को पेनल्टी कार्नर प्रदान मिला, जिसे नीलम संदीप ने शानदार ढंग से गोल में बदला और टीम को 2-0 की बढ़त लेने में मदद की.

ALSO READ: कर्नाटक: मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कैबिनेट में किया विस्तार,17 विधायकों ने ली…

भारत ने आक्रामक रुख अपनाना जारी रखा और मनदीप ने नौवें मिनट में शानदार फील्ड गोल करके टीम को एक और स्कोर की बढ़त दी.

जापान ने 25 वें मिनट में केंटारो फुकुडा के फील्ड गोल के साथ अपना खाता खोला, लेकिन मंदीप ने एक के बाद एक दो गोल दागकर भारत को 5-1 से बड़ी बढ़त दिला दी. भारतीय उप-कप्तान ने 29 वें और 30 वें मिनट में हाफ टाइम की सीटी बजने से ठीक पहले गोल किया.

इसके बाद गुरजंत ने 42 वें मिनट में टीम के छठा गोल दागकर स्कोर को 6 -2 के स्कोर पर ला दिया. इसके साथ ही मैच के तीसरे क्वार्टर में विश्व में पांचवें स्थान पर बानी हुई भारतीय हॉकी टीम ने भारी बढ़त हासल कर ली.

जापान ने चौथे क्वार्टर में भारतीय डिफेंस पर हमला किया और काजुमा मुराता ने टीम के लिए तीसरा गोल 52 वें मिनट में किया.

इस जीत ने भारत को अंक तालिका में दूसरे स्थान पर ला दिया है और बुधवार को शिखर मुकाबले में न्यूजीलैंड से उसका सामना होगा.