Hindi Newsportal

सेना दिवस 2020: CDS जनरल बिपिन रावत, तीनों सेना प्रमुखों ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर दी श्रद्धांजलि

0 191

देश को निस्वार्थ भाव से सेवा देने वाले सैनिकों के सम्मान में आज देश 72 वां सेना दिवस मना रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश को अपनी सेना पर गर्व है, वही आर्य चीफ जनरल एम एम नरवाने ने कहा कि सीमाओं का कड़ा पहरा है और भारत भविष्य के किसी भी युद्ध के लिए तैयार है।

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने के साथ बुधवार को चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने सेना दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि दी।

सेना ने दिल्ली कैंट के करियप्पा परेड ग्राउंड में राजकीय सेना दिवस परेड में अपनी सैन्य शक्ति और अपनी कुछ अत्याधुनिक संपत्ति का प्रदर्शन किया। पहली बार सेना की कोर सिग्नल के साथ एक महिला अधिकारी, कप्तान तानिया शेर गिल, ने सेना दिवस परेड में सभी पुरुषों की टुकड़ियों का नेतृत्व किया।


राष्ट्रपति राम न कोविंद ने ट्वीट कर लिखा, “सेना दिवस के अवसर पर भारतीय सेना के सभी फौजी भाई-बहनों, युद्धवीरों और उनके परिवारों को बधाई। आप हमारे राष्ट्र के गौरव हैं और हमारी आजादी के रखवाले। आपकी सर्वोच्च त्याग भावना ने हमारी संप्रभुता की रक्षा की है, देश का गौरव बढ़ाया है और लोगों की सुरक्षा की है। जय हिन्द!”

ALSO READ: कश्मीर में आज आंशिक रूप से बहाल की जाएगी ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवा, सोशल मीडिया पर प्रतिबंध जारी


“भारत की सेना मां भारती की आन-बान और शान है। सेना दिवस के अवसर पर मैं देश के सभी सैनिकों के अदम्य साहस, शौर्य और पराक्रम को सलाम करता हूं,” पीएम मोदी ने ट्वीट किया.

सेना दिवस पर अपने पहले भाषण में, चीफ जनरल एम एम नरवाने ने कहा कि सैनिक सशस्त्र बलों की ताकत हैं। आतंकवाद के लिए भारत के पास “शून्य-सहिष्णुता” है, सेना प्रमुख ने कहा कि सीमाओं का कड़ा पहरा है और भारत भविष्य के किसी भी युद्ध के लिए तैयार है।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram