Hindi Newsportal

रैलियों और जनसभाओं में उमड़ रही भीड़ से इलेक्शन कमीशन नाराज़, अब नियमों का पालन नहीं करने पर होगी कड़ी कार्रवाई

0 93

देश के अलग-अलग राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव और उपचुनावों के लिए होने वाले प्रचार-प्रसार आये दिन कोरोना वायरस और इलेक्शन कमीशन की गाइडलाइन्स की धज्जियां उड़ा रहे है। रैलियों के दौरान इन्हीं धज्जियां को उड़ते देख अब इलेक्शन कमीशन सख्त होने वाला है। दरअसल अब कोरोना की रोकथाम करने को लेकर जारी केंद्र के दिशा-निर्देशों का पालन नहीं हुआ तो ऐसे मामलों में कड़ी कार्रवाई हो सकती है।

क्या कहा चुनाव आयोग ने।

केंद्रीय चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक दलों को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि जिस तरह से चुनाव प्रचार प्रसार के दौरान भीड़ जुट रही है और कोरोना को लेकर जारी किए गए दिशा-निर्देशों का पालन नहीं हो रहा वह चिंताजनक है। लिहाजा सभी राजनैतिक दल केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और केंद्रीय चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए उन दिशानिर्देशों का पूरी तरह से पालन करना होगा जो कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जारी किए गए थे।

देखें किस तरह तेजस्वी और सीएम योगी की रैलियों में उड़ी दिशा-निर्देशों कि धज्जियां।

बिहार चुनाव की रैली की तस्वीरें है चिंताजनक।

इलेक्शन कमीशन ने कहा कि बिहार हो या मध्य प्रदेश या फिर देश के वो राज्य जहां पर केंद्रीय चुनाव आयोग ने इस कोरोना संक्रमण काल में चुनाव या उपचुनाव संपन्न करवाने का फैसला लिया है लेकिन इसी समय वहां से जो तस्वीरें सामने आ रही है उसने केंद्रीय चुनाव आयोग की भी चिंताएं बढ़ा दी हैं। क्योंकि जो तस्वीरें सामने आ रही है उसमें लोग हजारों हजार की संख्या में एक ही जगह जुटे हुए नजर आ रहे हैं फिर चाहे वो छोटी रैलियां हो या फिर हो बड़ी जनसभाएं. इतना ही नहीं इन रैलियों और जनसभाओं में आने वाले लोग ना तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं, ना ही मास्क और सैनिटाइजर का इस्तेमाल कर रहे हैं।

राजनीतिक दलों को भेजा निर्देश।

राजनीतिक दलों को भेजे गए निर्देश में केंद्रीय चुनाव आयोग ने साफ तौर पर कह दिया है कि पिछले कुछ वक्त के दौरान ऐसी कई तस्वीरें और मीडिया रिपोर्ट सामने आई हैं जिससे यह साफ हो रहा है कि चुनाव प्रचार प्रसार के दौरान पूरी तरीके से डिजास्टर मैनेजमेंट के नियमों का उल्लंघन हो रहा है। न कोई सावधानी बरती जा रही है न ही सोशल डिस्टन्सिंग है और ना ही मास्क और सांइटिज़ेर का इस्तेमाल किया जा रहा है जो बहुत ही ज़्यादा चिंताजनक बात है क्युकी यही लोगों की जान को जोखिम में डाल रहा है।

अब नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई।

एक तरफ केंद्रीय चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों के नेताओं और उम्मीदवारों से साफ तौर पर कह दिया है कि वो रैलियों और जनसभाओं को संबोधित करने के दौरान यह सुनिश्चित करें कि भीड़ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे, मास्क और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें वही दूसरी और इसके साथ ही केंद्रीय चुनाव आयोग ने राज्य चुनाव के अधिकारियों को भी साफ निर्देश दिया है कि अगर इन नियमों का पालन नहीं होता तो फिर डिसास्टर मैनेजमेंट एक्ट समेत अन्य कानूनों के तहत नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram