Hindi Newsportal

दिल्ली एनसीआर में सांस लेना मुश्किल, AQI ‘गंभीर’ निशान के पार

File image
0 178

दिल्ली एनसीआर के नागरिकों को शुक्रवार को बेहद खतरनाक हवा में सांस लेने के लिए मजबूर होना पढ़ रहा है क्योकि AQI गंभीर श्रेणी को पार कर चूका है. एयर लेवल इंडेक्स (AQI) का मान शुक्रवार की सुबह 459 पर मंडरा रहा था, वही प्रदूषण का स्तर गुरुवार की देर रात गंभीर + जोन तक पहुंच गया।

बता दे कि यह पहली बार है जब राष्ट्रीय राजधानी में इस सीजन में हवा की गुणवत्ता आपातकालीन स्तर तक गिर गई है। ऐसी स्थिति आखिरी बार जनवरी 2019 में देखी गई थी।

आज सुबह 8 बजे तक हवा की गुणवत्ता में सुधार के कोई संकेत नहीं दिखाई दिए, सरकारी एजेंसियों ने पूर्वानुमान लगाया है कि आज मामूली सुधार हो सकता है। चिह्नित सुधार रविवार को ही होने की उम्मीद की जा सकती है जब हवाओं में तेजी आने की उम्मीद है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज स्कूली बच्चों को श्वास मास्क वितरित करते हुए शहर को एक “गैस चैंबर” के रूप में वर्णित किया। केजरीवाल ने बिगड़ती वायु गुणवत्ता के लिए पंजाब और हरियाणा की सरकारों को जिम्मेदार ठहराया। केजरीवाल ने शुक्रवार सुबह एक ट्वीट में कहा कि दोनों राज्यों के किसानों के पास खूंटी जलाने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।

ALSO READ: राष्ट्रपति भवन में जर्मन चांसलर मर्केल का औपचारिक स्वागत, बोली- जर्मनी, भारत बहुत करीबी संबंधों से जुड़े है


बता दे कि AQI को PM (पार्टिकुलेट मैटर) को ध्यान में रखकर मापा जाता है। किसी स्थान के प्रदूषण को या तो PM10 या PM2.5 में मापा जाता है, जिसके आधार पर उस स्थान पर कण हवा में अधिक प्रभावी होते हैं।

AQI

0-50 अच्छा
51-100 संतोषप्रद
101-200 मध्यम
201-300 खराब
301-400 बहुत खराब
401-500 अधिक गंभीर

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram