Hindi Newsportal

करतारपुर कॉरीडोर पर पाकिस्तान के वीडियो को लेकर विवाद, सिख अलगाववादियों का पोस्टर दिखा

0 93

करतारपुर कॉरिडोर की घोषणा के बाद से ही सुर्खियों में है, लेकिन अब यह एक विवाद में उलझा हुआ है। बता दे कि करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के लिए सोमवार को पाकिस्तान के सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा एक वीडियो जारी किया गया है, जिसमे खालिस्तानी अलगाववादी नेताओं जरनैल सिंह भिंडरावाले, मेजर जनरल शबेग सिंह और अमरीकन खालसा के पोस्टर प्रदर्शित हुए है।

भिंडरावाले सिख धार्मिक संप्रदाय दमदमी टकसाल के प्रमुख था। वही मेजर जनरल शबेग सिंह एक भारतीय सेना के जनरल थे. अपने रिटायरमेंट के ठीक पहले भ्रष्टाचार के आरोपों में उन्हें उनके पद से हटा दिया गया था जिसके बाद वो 1984 में खालिस्तानी आंदोलन में शामिल गया था. अमरीक सिंह खालसा खालिस्तानी छात्र नेता थे, जिन्होंने ऑल इंडिया सिख स्टूडेंट्स फेडरेशन (AISSD) का नेतृत्व किया।

बता दे कि तीनों को जून 1984 में अमृतसर में भारतीय सेना के ऑपरेशन ब्लू स्टार के दौरान मार दिया गया था। इस बीच

वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि यह सब मैं पहले दिन से ही चेतावनी दे रहा हूं कि पाकिस्तान का यहां एक एजेंडा छिपा हुआ है।


2019 में गुरु नानक की 550 वीं जयंती है और इस अवसर पर भारत और पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। यह गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक को करतारपुर के दरबार साहिब गुरुद्वारे से जोड़ता है और इसका उद्देश्य भारतीय तीर्थयात्रियों के करतारपुर साहिब में जाना आसान बनाना है।

ALSO READ: एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा- शिवसेना और बीजेपी जल्द बनाये सरकार

ये वीडियो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 8 नवंबर को भारतीय पक्ष के करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन से कुछ दिन पहले सामने आया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अगले दिन दूसरी तरफ रास्ता खोलेंगे।

भारत और पाकिस्तान ने 24 अक्टूबर को गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती से पहले भारतीय तीर्थयात्रियों के लिए करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने का समझौता किया था।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram