Hindi Newsportal

उन्नाव कांड में पुलिस का खुलासा: एकतरफा प्यार में लड़कियों को पिलाया था जहरीला पानी, दो आरोपी गिरफ्तार

0 251

उत्तर प्रदेश पुलिस ने उन्नाव केस में बड़ा खुलासा कर इस केस की गुत्थी सुलझा दी है। जांच में सामने आया है कि दोनों दलित लड़कियों की हत्या जहर देकर की गई थी। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी विनय समेत उसके नाबालिग दोस्त किशोर को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। दरअसल पूछताछ में विनय ने कबूला है कि वो पानी में कीटनाशक मिलाकर अपने साथ ले गया था और उसी ने यही पानी लड़कियों को पिला दिया, जिसके बाद उनकी मौत हो गई।

क्यों दिया घटना को अंजाम ?

गिरफ्तार युवक का नाम विनय है और उसने पुलिस से पूछताछ में चौंकाने वाले खुलासे करते हुए बताया कि जिन तीन लड़कियों को बेहोशी की हालत में पाया गया था, उनमें से एक से वह प्रेम करता था। इस लड़की से उसे लॉकडाउन के दौरान मोहब्बत हुई थी, लेकिन जब लड़की ने उसका प्रस्ताव स्वीकार नहीं किया तो उसने उसके पानी में कीटनाशक मिला दिया। इसे पीने के बाद ही तीनों लड़कियों की हालत बिगड़ गई और दो की मौत हो गई।

पानी दिया था एक लड़की को लेकिन धोके से पी लिया तीनो ने।

आईजी लक्ष्मी सिंह के मुताबिक घटना से पहले सभी ने खेत में एकसाथ बैठकर नमकीन खाई। इसमें विनय, उसका साथी और यह तीन लड़कियां शामिल थीं। नमकीन खाने के बाद विनय ने उस लड़की को पानी पीने के लिए दिया जिससे वो प्यार करता था लेकिन इस पानी को बाकी लड़कियों ने भी पी लिया। आईजी के मुताबिक विनय ने बाकी लड़कियों को पानी पीने से मना किया था, लेकिन दोनों ने जबरदस्ती पानी पी लिया। मुंह से झाग निकलने के बाद दोनों लड़के वहां से भाग गए।

ये भी पढ़े : बीते 24 घंटों में दर्ज हुए कोरोना के 14 हजार नए मामले और 101 मौत, महाराष्ट्र में 6 हज़ार से अधिक केस दर्ज

इस बात पर भी थी नाराज़गी।

इस मामले में आईजी लक्ष्मी सिंह के मुताबिक विनय ने लड़की से मोबाइल नंबर मांगा था, लेकिन लड़की ने इससे इनकार कर दिया था। पुलिस ने कहा कि विनय के पूरे बयान पर जो तथ्य मिले हैं, उसकी पड़ताल की जा रही है। आईजी ने यह भी कहा कि जिस लड़की का अस्पताल में अभी इलाज कराया जा रहा है, उसी से विनय ने अपने एकतरफा प्यार की बात कही है।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल असोहा थाना इलाके के बबुरहा गांव में बुधवार की शाम खेतों में घास लेने गईं तीन दलित किशोरियां वहीं पर बेसुध पाई गई थीं। जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया था, जहां डॉक्टरों ने 14 और 15 वर्षीय दो किशोरियों को मृत घोषित कर दिया था। फिलहाल तीसरी जो 16 साल की है उसकी हालत नज़ाउक बनी हुई है।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram